Download Our App

Follow us

Home » धर्म » लगभग 2 करोड़ 18 लाख लोगों ने आस्था की डुबकी लगाई।

लगभग 2 करोड़ 18 लाख लोगों ने आस्था की डुबकी लगाई।

माघ मेले के तृतीय स्नान पर्व मौनी अमावस्या के अवसर पर लगभग 2 करोड़ 18 लाख लोगों ने आस्था की डुबकी लगाई।

प्रयागराज : महापर्व “मौनी अमावस्या” पर संगम में करोड़ो श्रद्धालुओं ने लगाई आस्था की डुबकी। मेला पुलिस रही मुस्तैद, चप्पे-चप्पे पर सीसीटीवी कैमरे से निरन्तर होती रही निगरानी। 

मौनी अमावस्या पर माघ मास के महा स्नान पर्व पर संगम के तट पर स्नानार्थियों/श्रद्धालुओं का पुण्य की कामना के साथ स्नान और दान करने के लिए रेला उमड़ पड़ा | तीर्थराज प्रयागराज की पावन धरती पर माघ मेला के सबसे प्रमुख स्नान पर्व मौनी अमावस्या पर लाखों-लाख श्रद्धालुओं ने पावन संगम त्रिवेणी में आस्था की डुबकी लगाई। सुनहरे मौसम, खिलखिलाती धूप और हल्की शीतलहर के बीच मध्य रात्रि से ही स्नान प्रारम्भ हो गया और पूरा दिन स्नान का सिलसिला अनवरत जारी रहा। सभी पाण्टून पुल श्रद्धालुओं से पूरी तरह भरे दिखे। इस महा पर्व पर आस्था का जन सैलाब उमड पड़ा जिधर भी नजर गई श्रद्धालु ही श्रद्धालु दिखे। आज माघ मेला के सबसे बडे महापर्व पर श्रद्धालुओं से संगम सराबोर हो गया। श्रद्धालुओं के सुगम आवागमन व सुरक्षित स्नान हेतु व्यापक पुलिस प्रबन्ध किए गए, जिसके तहत सम्पूर्ण मेला क्षेत्र में विभिन्न स्थानों पर नागरिक पुलिस, यातायात पुलिस, महिला पुलिस, अग्निशमक दल, पीएसी के जवान, घुड़सवार पुलिस, आरएएफ, एटीएस के कमाण्डो व बम निरोधक दस्ता की टीमें व्यवस्थापित की गई । संगम घाट पर जल पुलिस के साथ-साथ मोटर-बोट नियुक्त कर स्नानार्थियों/श्रद्धालुओं की सुरक्षा हेतु कड़े प्रबन्ध किये गये तथा गोताखोरों का भी समुचित प्रबन्ध किया गया, स्टीमर के माध्यम से लगातार संगम घाटों का निरीक्षण किया गया। सुरक्षा के दृष्टिगत घाटों/जल में लगे एसडीआरएफ/फ्लड कम्पनी के जवानों द्वारा कड़ी निगरानी की गई, सभी स्नानार्थियों से अनुरोध किया गया कि सावधानी पूर्वक स्नान करें, किसी भी प्रकार की संदिग्ध वस्तु को हाथ न लगायें। सम्पूर्ण मेला क्षेत्र में सीसीटीवी कैमरों,ड्रोन के माध्यम से चप्पे-चप्पे पर नजर रखी गई, मेला क्षेत्र में आने वाले स्नानार्थियों/श्रद्धालुओं को आवागमन में कोई असुविधा न हो इसके लिए मेला क्षेत्र में पार्किंग की समुचित व्यवस्था की गई तथा यह भरसक प्रयास किया गया कि संगम स्नान हेतु आने वाले श्रद्धालुओं को स्नान घाट तक पहुँचने के लिए न्यूनतम पैदल चलना पड़े। इस दौरान मेला क्षेत्र में अत्यधिक संख्या में श्रद्धालुओं के आने पर भूले भटके शिविर द्वारा बिछुड़े हुये श्रद्धालुओं/व्यक्तियों को उनके परिजनों से मिलाया गया। 

इस महापर्व के अवसर पर अपर पुलिस महानिदेशक प्रयागराज जोन श्री भानु भास्कर IPS, पुलिस आयुक्त कमिश्नरेट प्रयागराज श्री रमित शर्मा IPS, मंडलायुक्त प्रयागराज विजय विश्वास पंत IAS, पुलिस महानिरीक्षक प्रयागराज रेंज श्री प्रेम कुमार गौतम IPS,पुलिस उप महानिरीक्षक/प्रभारी माघ मेला डॉ0 राजीव नारायण मिश्र IPS, कुंभ मेलाधिकारी विजय किरन आनंद IAS, जिलाधिकारी प्रयागराज नवनीत सिंह चहल IAS, पुलिस उपायुक्त नगर दीपक भूकर IPS, पुलिस उपायुक्त गंगापार अभिषेक भारती IPS,पुलिस उपायुक्त यातायात/ नोडल पुलिस अधिकारी माघ मेला आशुतोष द्विवेदी लगातार मेला क्षेत्र में रहकर सभी व्यवस्थायें सुनिश्चित कराते रहे। मेला में आये श्रद्धालुओं से लगातार अनुरोध किया गया कि वह मेले की स्वच्छता व सुरक्षा में हमारा सहयोग करें। मेला प्रभारी डॉ0 राजीव नारायण मिश्र IPS द्वारा समस्त पुलिस कर्मियों को भ्रमण के दौरान ड्यूटी की कुशलता लेते हुए उनका उत्साहवर्धन किया गया तथा कमाण्ड सेंटर के माध्यम से मेला क्षेत्र में लगे सीसीटीवी कैमरों से भी लगातार मेले का हाल लिया गया। मेले की कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के साथ-साथ सेवा का भाव भी पुलिस कर्मियों के व्यवहार से प्रदर्शित हुआ। आस्था एवं श्रद्धा के इस पावन महापर्व मौनी अमावस्या पर स्नानार्थियों में धर्म के प्रति काफी आस्था देखने को मिली। पुलिस बल के अथक प्रयासों के फलस्वरूप आस्था एवं श्रद्धा का यह महापर्व मौनी अमावस्या सकुशल सम्पन्न हुआ।

इसे भी पढ़ें इटली से माघ मेला में आए 11 पर्यटकों के समूह ने कहा – “थैंक यू यूपी पुलिस”

7k Network

Leave a Comment

RELATED LATEST NEWS

Latest News