Download Our App

Follow us

Home » आध्यात्मिक ज्ञान » भगवान को अपने भक्त का इंतजार रहता है

भगवान को अपने भक्त का इंतजार रहता है

भगवान को अपने भक्त का इंतजार रहता है, जहां सत्य व भक्ति का समन्वय होता है वहां होता है भगवान का आगमन- अनुराग शरण महराज

उत्तर प्रदेश कौशांबी जनपद के आदर्श नगर पंचायत सिराथू में श्रीमद्भागवत कथा महापुराण कथा के पांचवें दिन गोवर्धन पूजा प्रसंग सुनाया गया। कथा में गोवर्धन पूजा की दिव्य कथा विस्तार पूर्वक सुनकर श्रद्धालु भाव विभोर हो गए। कथाव्यास अनुराग शरण जी महाराज ने कहा कि जहां सत्य व भक्ति का समन्वय होता है। वहां भगवान का आगमन अवश्य होता है। आज इंसान घमंड में भगवान को भूलता जा रहा है। इस कारण प्राणी चिता में डूबा हुआ है। भगवान की कृपा तब होती है जब जीव अपना कर्म करके भगवान पर छोड़ देता है। सारी दुनिया का पालन-पोषण भगवान कर रहे हैं।

भगवान को अपने भक्त का इंतजार रहता है। हमें शास्त्र के अनुसार चलना चाहिए। आज गलत खानपान के कारण ही लोगों की सेहत खराब हो रही है। हिंदू धर्म का प्रमाण उसके शास्त्र हैं जोकि भगवान का प्रमाण देते हैं। आरती के बाद सबको प्रसाद वितरण किया गया। इस अवसर पर विधिवत रूप से पूजा-अर्चना कराई गई। मुख्य यजमान हरिमोहन वर्मा पत्नी उर्मिला वर्मा ने भागवत आरती की वहीं अनुराग शरण जी महाराज के गुरु जी सदगुरुदेव भगवान का सिराथू लक्ष्मी गेस्ट हाउस भागवत कथा में आगमन हुआ तो अनुराग शर्मा जी महाराज की धर्म पत्नी रामायण इंदुमती का भी आगमन हुआ।

इसे भी पढ़ें तुलसी देवी करुणापति स्मारक बालिका इंटर कॉलेज में वार्षिक परीक्षा शुरू

7k Network

Leave a Comment

RELATED LATEST NEWS

Latest News