Download Our App

Follow us

Home » कृषि » आलू की पैदावार कमजोर होने के कारण भाव के टूटे रिकॉर्ड

आलू की पैदावार कमजोर होने के कारण भाव के टूटे रिकॉर्ड

आलू की पैदावार कमजोर होने के कारण भाव के टूटे रिकॉर्ड

 संवाददाता/ उमेश चंद्र साहू

उत्तर प्रदेश प्रयागराज जिले के श्रृंगवेरपुर के अंतर्गत तमाम ऐसे गांव हैं।बिछिया, बाबा का पूरा, शिवलाल का पूरा, नक्कू का पूरा जहां पर आलू की खेती किसान भरपूर मात्रा में करता है। और आलू की खेती के सहारे किसान अपने भविष्य की कल्पना करता है।

रामू पटेल बताते हैं कि पिछले साल की तुलना में इस वर्ष आलू की खेती बेहद कमजोर है। 10 विश्व खेती में लगभग 30 से 40 बोरी आलू की पैदावार हुई है। जहां पर पिछले बार 80 से 90 बोरी आलू निकली थी। काशीपुर क्षेत्र की आलू की फसल भी बहुत अच्छी मानी जाती है। पर वहां पर भी आलू की उपज बहुत कमजोर है।

कोल्ड स्टोर की स्थिति यह है कि जहां पर आलू ट्रैक्टर की वजह से जाम लगता था। आज स्थिति यह है कि कोल्ड स्टोर में बहुत कम आलू पहुंच रही है।

कौड़िहार मंडी में आलू के भाव रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गई है।जी4 आलू के भाव 1800 से लेकर 1950 तक पहुंच गई है। कुछ किसानों का कहना है कि आलू के भाव 2000 से लेकर 2300 तक की उम्मीद लगा करके रखे हैं।

इसे भी पढ़ें अखबार 28 मार्च 2024

7k Network

Leave a Comment

RELATED LATEST NEWS

Latest News