Download Our App

Follow us

Home » क्राइम » 164 का बयान होने के बावजूद पिपरी पुलिस आरोपी को नहीं भेजा जेल

164 का बयान होने के बावजूद पिपरी पुलिस आरोपी को नहीं भेजा जेल

छेड़छाड़ और रेप का मुकदमा हुआ दर्ज तीन दिन से पुलिस आरोपी को जेल न भेजकर बैठाया थाने में

उत्तर प्रदेश कौशांबी जिले के पिपरी थाना क्षेत्र के तिल्हापुर स्थित एक हॉस्पिटल में एक महिला वर्कर के रूप में कार्य कर रही है रोजाना की भांति महिला 9 अप्रैल 2024 दिन मंगलवार के भोर में काम कर अस्पताल के बने पांचवी मंजिल में अपने रूम पर सो रही थी तभी अस्पताल के वार्ड बॉय धर्मेंद्र कुमार दिवाकर जो उसी अस्पताल में वार्ड बॉय का काम करता है उसने पांचवी मंजिल में पहुंचकर सो रही महिला के कमरे में पहुंचकर महिला के साथ छेड़छाड़ करने लगा महिला ने जब जागकर देखा तो उसका हाथ पकड़ कर झटक दिया इतने में वार्ड बॉय धर्मेंद्र कुमार ने मुंह दबाकर जबरन रेप करने लगा और कहा कि किसी से यदि कहोगे तो तुम्हें हॉस्पिटल से निकलवा दूंगा पीड़िता किसी तरह से आरोपी के चंगुल से छूटकर अपने घर आकर अपने परिजनों से बताई परिजनों ने पुलिस चौकी को सूचना दी लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की पीड़िता ने बुधवार के दिन पुलिस अधीक्षक कौशांबी के कार्यालय पहुंचकर आरोपी के विरुद्ध लिखित तहरीर देकर न्याय की मांग की पुलिस अधीक्षक कौशांबी ने लिखित तहरीर पाकर पिपरी थाना प्रभारी को फोन के जरिए अवगत कराकर तत्काल कार्रवाई करने की हिदायत दी है। पिपरी पुलिस ने लिखित तहरीर प्रकार दुष्कर्मी के विरुद्ध 64/24 धारा 376/506 में मुकदमा दर्ज कर लिया और आरोपी को 11/4/2024 को गिरफतार कर लिया और किशोरी का 164 का बयान भी करा दिया। इसके बावजूद भी पुलिस ने आरोपी को जेल न भेजने के बजाय थाना ही बैठाकर गुणा-भाग कर रही है। जबकि 164 का बयान होने के बाद आरोपी को 24 घंटे की भीतर जेल भेजने का प्रवाधान है।अब पिपरी पुलिस ने अपने मनमर्ज़ी से नया कनून लागू कर दुष्कर्मी को थाने में ही बैठा रखा है।

इसे भी पढ़ें चोरी की कार व 6 बाइक के साथ एक आरोपी गिरफ्तार

7k Network

Leave a Comment

RELATED LATEST NEWS

Latest News